Shahid Diwas 2022 क्यों मनाया जाता है शहीद दिवस 23 मार्च को? जाने Bhagat Singh, Rajguru, Sukhdev के बारे में

Today 23rd March 2022 is Shahid Diwas because this is the Shaheed Diwas 2022 of Sardar Bhagat Singh, Rajguru Sukhdev.

आज 23 मार्च 2022 को Shahid Diwas है क्योंकि यह सरदार भगत सिंह, राजगुरु सुखदेव का शहीदी दिवस 2022 है।23 मार्च 1931 को अंग्रेज सरकार ने भगत सिंह और उनके साथिओ को फांसी दी थी|

उनकी इस शहीदी के दिन पर भारत में शहीद दिवस मनाया जाता है और आज के ही दिन अमर शहीदों को याद भी किया जाता है| वैसे तो इन अमर शहीदों को याद करने की जरुरत नहीं है क्यूंकि भगत सिंह, राजगुरु सुखदेव जैसे अमर क्रांतिकारी योद्धा तो हर एक भारतीय के मन में बसते है|

आज भी उनकी कुर्बानी को याद करके आंखें नम हो जाती है|भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव जैसे क्रांतिकारी जिनहोने अपनी जवानी की परवाह किये बगैर भारत को अंग्रेजी हुकूमत से आज़ाद कराने के लिए अपनी जान की बाज़ी लगा दी थी|

Shahid Diwas-Shaheed Diwas 2022 Bhagat Singh, Rajguru Sukhdev

Shahid Diwas

आज हम आजाद भारत में रह रहे हो तो इन शहीदों की ही बदोलत|अगर ये लोग आज़ादी के लड़ाई में हिस्सा नहीं लेते तो शायद भारत आज भी गुलाम होता और भी बहुत सारे क्रांतिकारी योद्धाओं ने इस आज़ादी की लड़ाई में अपनी जान की बाज़ी लगाई है|हम उनको भी तह दिल से शुक्रिया करना चाहते है|

ऐसे आज़ादी के दीवाने जिन्होंने अपने देश के लिए सब कुछ दांव पर लगा दिया|आओ मिलकर इन अमर शहीदों को याद करे और उनकी याद में शहीद दिवस मनाये|

Bhagat Singh (भगत सिंह)

सरदार भगत सिंह का जनम 27 सितम्बर 1907 को हुआ था और इनको अँगरेज़ सरकार के द्वारा फांसी 23 मार्च 1931 को दी गयी थी| इनको शहीद-इ-आज़म भगत सिंह के नाम से भी जाना जाता है| इनके पिताजी का नाम किशन सिंह संधू और माता जी का नाम विद्यावती कौर था| ऐसे वीर योद्धाओं को और इनके माता पिता को हम तह दिल से नमन करते है| Source- Wikiperdia

Leave a Comment